पालतू जानवरो का टिफिन सेंटर, लाखों की कमाई Pet animal tiffin centre business


दोस्तों में आज ऐसे बिज़नेस के बारे में बता रहा हूँ, जो एक अलग ही प्रकार का बिज़नेस है। शहर में कई लोगो के पालतू जानवर होते है, जैसे कुत्ते, बिल्ली, घोडा, गाय, भैस बकरियाँ आदि। लोग अपने पालतू पशुओं को अपने घर के सदस्यों की तरह ही रखते है, तथा उनकी देखरेख भी परिवार के सदस्यों के समान ही की जाती है। 

किन्तु सबसे बड़ी समस्या इन पालतू पशुओं में आती है, उनके पोषण को लेकर। याने इनके लिए पौस्टिक एवं स्वादिस्ट आहार को लेकर। पशु कुछ बोल तो सकते नहीं है, किन्तु यदि उन्हें जो खाना दिया जाता है, यदि उन्हें पसंद नहीं है, तो वह उस खाने को नहीं खायेगा या भूख लगाने पर बे मन से खाना पड़ेगा। और फलस्वरूप पशु बीमार या सुस्त होने लगेगा। 

पशु वही खाना खाते है, जो उनको अच्छा लगे। और अपने पसंद के खाने को ही वे चाव से खाते है। क्योंकि पशुओ का स्वभाव ही ऐसा होता है। क्योंकि जब वे जंगली होते है, या उनका कोई मालिक नहीं होता है। तब वे दिनभर भोजन की तलाश में घूमते रहते है, और वही खाते है जो उन्हें अच्छा लगे, या जिसकी गंध उनको अच्छी लगे। अब पालतू होने पर वे अपना स्वभाव नहीं बदल सकते है। 

बहुत से पशु पालक या मालिक हमेशा इस बात से परेशान रहते है, की उनको पशुओ के लिए अच्छे से अच्छे भोजन की व्यवस्था कैसे की जाये। जैसे यदि अच्छी नस्ल के कुत्ते के लिए उत्तम भोजन के लिए उनके मालिकों को एक अलग से खाना बनाने वाला रखना होता है। आदि कई समस्याय है। 

इस बिज़नेस को कैसे शुरू करे:- 

(यह बिज़नेस एक स्टार्टअप बिज़नेस बन सकता है) startup business

दोस्तों कोई सा भी नया बिज़नेस हो उसे शुरू करने में बहुत मेहनत करना पड़ती है, बाद में वह धीरे-धीरे रोटेशन में आ जाता है। किन्तु यदि बिज़नेस एकदम नया हो तो भी बहुत मेहनत करना पड़ती है। हो सकता है, आप कभी डीमोटिवेट भी हो सकते हो। परन्तु यदि मेहनत ईमानदारी से करे तो किसी भी बिज़नेस में सफल होना कोई बड़ी बात नहीं है। 

इस बिज़नेस को शुरु करने के लिए थोड़ी मेहनत आपको करना पड़ेगी:-

आपको निम्न जानकारियां निकलना पड़ेगी। 
  • कितने तरह के पालतू जानवर होते है। (कुत्ते, भैस, गाय, घोडा, खरगोश, आदि। 
  • किन जानवरो की संख्या अधिक मात्रा में है। (जैसे कुत्ते)
  • किन जानवरो को वेज खाना देना है और किन जानवरो को नॉनवेज। 
  • किस तरह के खाने को जानवर चाव से कहते है। 
  • किस तरह का खाना खाने से जानवरो की ग्रोथ अच्छी होती है। 
  • बीमारी के समय जानवरो को कैसा खाना देना है। 
  • किस समय या मौसम में कौनसा खाना देना है। 
  • वेज एनिमल के लिए भी हाइड्रोपॉनिक चारा भी लगा सकते है 
अब सोच रहे होंगे की इतनी सारी जानकारिया कैसे निकाले। आपको थोड़ी मेहनत तो करना पड़ेगी। आपको कई वेबसाइटों, व यूट्यूब से एनिमल फ़ूड के बारे में जानकारी निकालना पड़ेगी। जानवरो के डॉक्टरो से मिलकर जानवरो के खाने के बारे में जानकारी जुटाना होगी। 

मार्केट में बहुत से पैकिंग एनिमल फ़ूड उपलब्ध है। उनके बारे में जानकारी इकट्ठा करना होगी, कि कौनसे फ़ूड को जानवर चाव से खाते है। उनमें किस सामग्री का उपयोग किया गया है, जिससे जानवर चाव से कहते है। आदि सभी तरह की जानकारियां आप ढूंढ सकते है। 

कितना खर्च आएगा :-

इस बिज़नेस को शुरू में छोटे स्तर पर आप अपने घर से ही शुरू कर सकते हो। किन्तु यदि घर में नॉनवेज आदि बनाने ने यदि प्रॉब्लम हो तो आपको कोई अच्छी जगह किराये से लेना होगी। जहाँ आसपास किसी को नॉनवेज से परेशानी न हो। आपको जगह का किराया, कुछ बर्तन, टिफिन, खाना बनाने के कम्प्लीट बर्तन, गैस आदि की आवश्यकता होगी। जब आपका काम बड़े तब आप बड़े स्तर पर और भी अच्छा काम कर सकते हो। एक हलवाई व एक दो हेल्पर भी लग सकते है।  

खाना  कैसे बनाये:-

खाने को बनाने के लिए कुछ बर्तनो की आवश्यक्ता होगी, वैसे जिस तरह हम अपना खाना बनाते है, उसी तरह से ही जानवरो का खाना बनाने की जरुरत पड़ती है। बस कोनसे  मसाले डालने है, या कौनसे नहीं यह आप जानकारी निकाल चुके हो। शुरू में हो सकता है कुछ परेशानी हो किन्तु बाद में धीरे-धीरे सब रोटेशन में आ जायेगा। हलवाई सब कुछ समझ जाएगा। 

खाने की क्वालिटी :-

हमें खाने की क्वालिटी हमेशा एक जैसे रखना पड़ेगी। जानवर बोल तो नहीं सकते, उनकी को सूंघने की शक्ति हमसे बहुत अधिक होती है। यदि उन्हें खाने में जरा भी फर्क लगा तो वो नहीं खाएंगे।  

खाने की डिलेवरी कैसे करे :- 

हमें रोज ताजा खाना बनाकर घर पहुँच सेवा देना होगा, इस काम को उसी तरह से करना होगा जैसे टिफिन सेंटर वाले घर-घर टिफिन पहुंचाते है।  

एक बार आपका बिज़नेस अच्छे से जम जाने के बाद आप इस बिज़नेस की चाहे तो कई शहरों में फ्रेन्चाइसी भी दे सकते है।

चिड़ियाघर में भी जानवरो के भोजन के लिए अप्लाय कर सकते हो। यदि आपको किसी चिड़िया घर का काम मिल जाते तो फिर क्या कहना। लेकिन उसके लिए आपको सभी जानवरो के भोजन के बारे में अच्छे से जानकारी होना जरुरी है। आप चाहे तो किसी एक जानवर के लिए भी कुछ अच्छा खाना देने के लिए अप्लाय कर सकते हो। जैसे शाकाहारी जानवरो के लिए हाइड्रोपॉनिक चारा आदि। 



दोस्तों में तरुण जूनवाल आशा करता हूँ, की आपको मेरा ये आइडिया पसंद आया होगा। यदि ये Business idea in hindi में आपको पसंद नहीं आया तो कोई बात नहीं हम बहुत जल्दी ही हम एक और नया बिज़नेस आयडिया प्रस्तुत करेंगे। हो सकता है, हमारा अगला बिज़नेस आइडिया आपको पसंद आ जाए। 

इस वेबसाइट googleguru.in पर हर हफ्ते दो नए बिज़नेस के बारे में जानकारी मिलेगी। आप हमे ईमेल सब्सक्राइब भी कर सकते है, ताकि हम जब कोई भी नये बिज़नेस के बारे में जानकारी डाले तो वो आपके मेल पर पहुँच जाए। धन्यवाद जय हिन्द।

दोस्तों यदि ये बिज़नेस आइडिया आपको अच्छा लगे तो, इसे नीचे दिए गए व्हाट्सप बटन पर क्लिक करके आप अपने परिचितों को भेज सकते है।

धन्यवाद, जयहिंद 

Post a Comment

0 Comments